वर्तमान में, कोरोना वायरस (corona virus) का डर पूरी दुनिया में व्याप्त है। पूरी दुनिया इस महामारी के खिलाफ लड़ रही है। दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़ रही है। भारत में भी यह केस की संख्या बढ़ रही है। दुनिया भर में डेढ़ लाख से अधिक लोग अब तक कोरोना वायरस के शिकार हैं। एक हालिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अगर शरीर में पहले पांच दिनों के भीतर 3 विशिष्ट लक्षण दिखाई देते हैं तो कोरोना वायरस होने की अधिक संभावना हो सकती है।

जर्नल ऑफ इंटरनेशनल मेडिसिन में एक रिपोर्ट के अनुसार, पहले पांच दिनों के भीतर तीन विशिष्ट प्रकार के लक्षण कोरोना वायरस संक्रमण के होते हैं। आइए जानते हैं कौन से है ये तीन लक्षण?

कोरोना वायरस (corona virus) के लक्षण आमतौर शर्दी-ज़ुखाम जैसे होते हैं, जैसे गले में खराश, खांसी और बुखार। ऐसे सामान्य लक्षणों के कारण लोग कोरोना वायरस और सामान्य सर्दी के बीच अंतर को नहीं समझ पाते हैं।

1. कोरोना वायरस के संक्रमित होने के पांच दिनों के भीतर सूखी खांसी शुरू हो जाती है।

2. दर्दी को तेज बुखार होने लगता है और उसके शरीर का तापमान बहुत अधिक हो जाता है। अब तक कई हेल्थ एक्सपर्ट कोरोना वायरस ने तेज बुखार होने का दावा किया है।

3. कोरोना वायरस की शिकायत के बाद पहले पांच दिनों में व्यक्ति को सांस लेने में कठिनाई होने लगती है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि फेफड़ों में कफ़ के कारण सांस लेने में तकलीफ होती है।

नेशनल हेल्थ सेंटर और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी कोरोना वायरस का निशाना होने का दावा किया है। जिसमें शरीर के टूटने और खांसी होने की समस्या बताई गई थी।

कोरोना वायरस (corona virus) से कैसे बचे ?

– अक्सर हाथ धोना सबसे अच्छा उपाय है।

– नियमित रूप से साबुन और पानी से हाथ धोएं।

– छींकने पर टिशू पेपर या रूमाल मुंह के आगे रखे।

– गंदे हाथों से चेहरा न छुएं। एक संक्रमित व्यक्ति से दूर रहना कोरोना वायरस के संचरण को सीमित कर सकता है।

यदि आप भी कोरोना वायरस (corona virus) जैसे लक्षणों दिखे या इस बारे में कोई संदेह या आशंका है, तो आप सरकार के हेल्पलाइन नंबर 104 पर कॉल करके जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा, कोरोना वायरस के इलाज या ऐसे मरीजों को सभी बड़े शहरों में स्थित नागरिक अस्पतालों में अलग-थलग रखने की विशेष व्यवस्था की गई है। इसके अलावा, संदिग्ध कोरोना वायरस रोगियों के लिए जिला स्तर के स्वास्थ्य केंद्रों में उपचार उपलब्ध है। इसलिए आप कोई भी उपरोक्त स्थानों पर जा सकता है।

इस माहिती को ज़्यादा लोगो के साथ शेर करे ताकि सब लोगो को ये जानकारी मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here